Live: राम मंदिर के सुरक्षित फैसले से बुद्धिस्टों में नाराजगी का माहौल …. होगा १० नवंबर को आंदोलन

0
132

अयोध्या राम मंदिर के सुप्रीम कोर्ट के सुरक्षित फैसले को लेकर बुद्धिस्टों में गहरी नाराजगी है क्योंकि उनका कहना है की हमारी तरफ से भी पेटिशन डाली गयी लेकिन हमारी पक्ष की सुनवाई नहीं हुई सुप्रीम कोर्ट हमारी सुनवाई को टालता रहा और केस दबाने की कोशिस की गयी। ये हमरी बातचीत कंस्टीटूशन क्लब में उपस्थित आर पी मौर्य जी से हुई।
उनका कहना है की ये मामला मंदिर मस्जिद का नहीं है यहाँ पर सही मायने में एक बौद्ध विहार थे जिन्हे तुड़वाकर मंदिर या मस्जिद में परिवर्तित किया गया। अर्थात अयोध्या एक बौद्धिस्ट स्थल है आर पी मौर्य जी ने आगे बताया की उन्होंने इसके लिए एक पेटिशन डाली हुई थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने टालमटोल कर दिया और कोर्ट में बहस के दौरान उनको कभी पक्ष के तोर पर नहीं रखा गया। अर्थात उनके केस को दबाने की कोशिस की गयी।
साथ ही उन्होंने बताया की हमारे पास ऐ एस आई की ६०० पेज की फाइल है जिसमें एक इंच की खुदाई का रिकॉर्ड है और उसको पब्लिक में लाया जाये लेकिन इस पर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से कोई अस्वाशन नहीं दिया गया और केस दबा दिया गया उनका कहना था की ये तो बुद्धिस्टों के साथ नाइंसाफी है इसलिए उनके तरफ से १० नवंबर को जंतर मंतर पर धरना होगा और इस प्रकार बुद्धिस्ट समाज ने अपनी नाराजगी जाहिर की है

वीडियो के लिए यहाँ क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here